एक बार बंता अपने दोस्त संता से मिलने उसके घर गया, वह दरवाजे से जैसे ही अन्दर घुसा वह यह देखकर हैरान हो गया कि संता अपने कुत्ते के साथ शतरंज खेल रहा है।

बंता उन दोनों को बड़ी हैरानी के साथ एकटक देखता रहा।

फिर बंता यह कहता हुआ आगे बड़ा कि,"मुझे अपनी आँखों पर यकीन नही हो रहा है कि तुम्हारा कुत्ता इतना होशियार है कि यह शतरंज भी खेलता है, मैंने आज तक किसी कुत्ते को शतरंज खेलते हुए नही देखा।"

संता: होशियार? क्या ख़ाक होशियार है ये, अब तक मैंने इसे पांच में से तीन गेम्स में हरा दिया है।
Categories:
Share
Blog Widget by LinkWithin